• आतंकवाद के सफाये के लिए पाक के साथ अब जरूरी हो गई है निर्णायक जंग :भवानजी

    मुंबई : मुंबई भाजपा के वरिष्ठ नेता , स्वतंतत्रा संग्राम सेनानी के सुपुत्र और मुंबई के पूर्व उपमहापौर श्री बाबूभाई भवान जी ने कहा है की आतंकवाद के सफाए के लिए पाकिस्तान के साथ निर्णायक जंग अब जरूरी हो गयी है .श्री भवानजी ने   आज यहाँ एक बयान में कहाकि पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है , सीमा पर युद्ध जैसे हालात हैं और बड़ी संख्या में सैनिकों और आम जनता के जानमाल का नुकसान हो रहा है .इसलिए इस समस्या के स्थाई समाधान के लिए एक बार पाकिस्तान के साथ निर्णायक जंग जरूरी हो गई है .
    उन्होंने कहाकि पिछले ३५ दिनों के भीतर पाक ने कई बार सीजफायर तोड़ा जिससे भारत के ३५ जवान शहीद हो गए है .अब हर भारतीय चाहता है की पाक की नापाक हरकत के लिए उसे कडा सबक सिखया जाए .२६ नवम्बर २००३ को दोनों  देशों के बीच युद्ध विराम समझौता हुआ लेकिन पाकिस्तान  समझौते के दूसरे महीने से ही युद्ध विराम का उल्लंघन करने लगा  .ऐसा करके वह  अपने यहाँ प्रशिक्षित आतंकवादियों को भारत में घुसाने का  प्रयास करता है .श्री भवान जी ने कहाकि पहले  पाक सेना सीमा पर फायरिंग और मोर्टारों का इस्तेमाल करती थी लेकिन भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाक सेना अब  एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का  इस्तेमाल करके भारतीय चौकियों और बंकरों को निशाना बना रही है .भारतीय सेना भी जबाब  में उनकी चौकियों  और बंकरों को निशाना बना रही है . पाक सेना अब सीमा पर स्थित भारतीय गांवों पर भी बमबारी कर रही है जिससे हजारों ग्रामीण शरणार्थी कैम्पों और अपने सगे सम्बन्धियों के यहाँ रहने चले गए हैं .शरणार्थी कैम्पों में चले जाने के कारण ये ग्रामीण ना तो अपनी खेती की देखभाल कर पा रहे हैं और ना ही उनके बच्चे स्कूल जा रहे है .पिछले साल पाक ने ८६० से भी ज्यादा बार सीजफायर का उल्लंघन किया और इस साल जनवरी माह में १६० बार सीजफायर तोड़ा .फरवरी माह में भी लगातार गोलीबारी जारी है .उन्होंने बताया कि २०१४ में भारत के ५१ जवान शहीद हुए और जबाब में भारतीय सेना ने ११० आतंकवादियों को मार गिराया .२०१५ में ४१ जवान शहीद हुए जबाब में ११३ आतंकवादी मारे गए .२०१६ में ८८ जवान शहीद हुए जबाब में १६५ आतंकवादी मारे गए .२०१७ में ८३ जवान शहीद हुए जबाब में २१८ आतंकवादी मारे गए .इस साल फरवरी तक भारत के ८ जवान शहीद हुए जबाब में १० आतंकवादी मारे गए .उन्होंने कहाकि श्री मोदी ने पूरी दुनियां में पाक और आतकवादियों के संबंधों को उजागर कर दिया और संसार के अधिकांश देश मानने भी लगे कि पाकिस्तान आतंकवादियों का कारखाना है .इसके बावजूद भारत को कमजोर करने के लिए  पाकिस्तान आतंकवादियों की मदद कर रहा है .अमेरिका ने भी मान लिया कि पाकिस्तान ही आतंकवादियों को पनाह देता है और उसने पाक को मदद भी रोक दी लेकिन इसके बाद भी पाक सुधर नही रहा है .श्री भवानजी ने कहाकि ऐसा लगता की पाक स्वयं बर्बाद होना चाहता है इसलिए वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है . इसलिए पाक को कड़ा सबक सिखाने का समय आ गया है .देश की जनता चाहती है कि पाक के खिलाफ सरकार कठोर कदम उठाये इसलिए उससे निर्णायक जंग अब जरूरी हो गयी है .

    No comments