• गणतंत्र दिवस: अपना विमान खुद उड़ाकर नयी दिल्ली पहुँचे ब्रुनेई के सुल्तान

    नयी दिल्ली। भारत के इतिहास में पहली बार आसियान के सभी सदस्य देशों के शीर्ष नेता गणतंत्र दिवस की परेड में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। आसियान दक्षिणी पूर्वी एशिया के दस देशों का समूह है जिसमें सिंगापुर, थाइलैंड, वियतनाम, इंडोनेशिया, मलेशिया, फ़िलीपींस, म्यांमार, कम्बोडिया, लाओस और ब्रूनेई शामिल हैं।

    ब्रूनेई के सुल्तान हसनल बोल्कियाह तो अपना बोइंग ख़ुद उड़ाकर भारत पहुंचे. उन्हें दुनिया का सबसे अमीर सुल्तान माना जाता है। फ़ोर्ब्स ने कुछ समय पहले उनकी कुल दौलत 12 हज़ार 700 करोड़ रूपए से भी ज़्यादा बताई थी।
    ब्रूनेई के सुल्तान ने पिछले साल अपने शासन के 50 साल पूरे किए।
    71 साल के हसनल बोल्कियाह अपनी शानदार जीवनशैली के लिए मशहूर हैं।

    वे इससे पहले भी दो बार भारत आ चुके हैं। 2008 और 2012 में हुई इन यात्राओं में भी सुल्तान ख़ुद अपना जेट उड़ाकर भारत आए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में यह बोल्कियाह की पहली यात्रा है। इस बार भी उन्होंने अपनी आमद का तरीक़ा पहले जैसा ही रखा। वे न सिर्फ़ निजी बोइंग में आए बल्कि उसे ख़ुद उड़ाकर भी लाए।
    सुल्तान बोल्कियाह के पास पायलटों की पूरी टीम है। लेकिन उन्हें प्लेन उड़ाने का इतना शौक़ है कि वे किसी और को कॉकपिट में बैठने ही नहीं देते।
    वे अक्सर सभी विदेश यात्राओं में प्लेन ख़ुद उड़ाते हैं।

    No comments